WannaCry या ransomware साइबर attack क्या है !

पूरी दुनियां में तहलका मचाने वाले कंप्यूटर वायरस ‘ransomware या wannacry’ के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं। आजकल टेलीकॉम कंपनियों के द्वारा सस्ते में डाटा प्लान देने से इंटरनेट का उपयोग तेजी से बढ़ा है जिससे कि हैकर्स के लिए भी अब कंप्यूटर या मोबाइल हैक करना आसान हो गया है क्योंकि बहुत सारे लोगो को साइबर अटैक या धोखाधड़ी के बारे में पता नही है । लोग आंख मूंद कर सोशल मीडिया पर आने वाले मैसेज पर भरोसा करते हैं जिससे उनकी व्यक्तिगत जानकारी के साथ ही उनकी महत्वपूर्ण फाइल्स भी हैक हो जाती हैं।

 

परिचय –
ये वायरस एक तरह का ब्रह्मास्त्र है क्योंकि इसका कोई तोड़ नही है। इस मे कंप्यूटर के सारे फाइल्स और ड्राइव को एन्क्रिप्ट कर दिया जाता है जिससे कि कोई दूसरा इसका इस्तेमाल नही कर सकता है । सीधे शब्दों में कहे तो आपके कंप्यूटर की सारी फाइल्स में लॉक लगा दिया जाता है जिसकी चाबी हैकर्स के पास आती है । ये चाबी यूज़र्स को तब तक नही दी जाती है जब तक हैकर्स की मांग, जैसे पैसे या ओर कुछ डिमांड भी हो सकती है।

 



 

पिछले दिनों के साइबर अटैक में ऐसे ही दुनिया के लगभग 150 देशों के कंप्यूटर में यह वायरस फैला दिया गया है तथा सारे कंप्यूटर फाइल्स लॉक कर दी गयी जिससे सारी जानकारियां एक तरह से खो गई, उसके बाद हैकर्स ने बिटकॉइन के रूप 300$ की फिरौती मांगी गई। बिटकॉइन के बारे में ज्यादा जानकारी किसी और दिन देंगे ,अभी  ये समझ लीजिये कि ये भी एक मुद्रा होती है डॉलर या रुपये के रूप में। उसके बाद कई लोगो ने उनके बिटकॉइन एकाउंट में 300$ ट्रांसफर कर दिए उसके बाद जाकर उनका कंप्यूटर वापस खुल पाया लेकिन इसकी कोई गारंटी भी नही है कि पैसे देने के बाद आपकी सारी फाइल्स वापस आपको मिल जाएगी।

 

प्रभाव

1. सारा उपयोगी डाटा चाहे वो आपके एकाउंट की डिटेल वाली फाइल्स हो या आपके पर्सनल image हो सब लॉक हो जाते है।

2. आपको 300$ तक या हैकर्स की डिमांड पूरी करनी पड़ती है ।

 

कैसे पता करे कि आपका कंप्यूटर हैक हुआ या नही

इस वायरस के बाद कंप्यूटर की सारी फ़ाइल लॉक हो जाती है , आपकी C या D ड्राइव काम नही करती है तथा एक स्क्रीन पर आपको बार बार मैसेज आता है कि आपका कंप्यूटर हैक हो चुका है तथा दिए गए एकाउंट पर पैसे जमा करने  के बारे में निर्देश होते है।
इस अटैक से कैसे बचें –
 



 
इस वायरस या सॉफ्टवेयर से बचने के लिए सबसे पहले आप का सचेत रहना बहुत जरूरी है क्योंकि यूज़र्स की थोड़ी सी गलती भी इस वायरस का कारण बन जाती है।
1. अपने कंप्यूटर पर कभी भी पायरेटेड या नकली windows operating system न चलाये।

2. कोई भी अनर्गल सॉफ्टवेयर इनस्टॉल न करे।

3. ब्राउज़िंग करते समय कभी भी किसी अन चाहे लिंक पर क्लिक न करे।

4.अपना कंप्यूटर का एन्टी वायरस हमेशा अपडेट रखे।

5. गलत एड्रेस से आये ईमेल या मैसेज को ओपन न करे।

6. लॉटरी या ऑनलाइन पैसा कमाने वाले ईमेल या लिंक पर क्लिक न करे।

7. अश्लील वीडियो या चित्रों के माध्यम से भी इस वायरस का अटैक हो सकता हैं।

8.अपने कंप्यूटर का firewall हमेशा on रखे।

9. किसी भी अनजान व्यक्ति के झांसे में आकर कोई भी सॉफ्टवेयर इनस्टॉल न करे।

10. सोशल मीडिया की अफवाहों पर ध्यान न दे।

11. जहां तक संभव हो अपने इम्पोर्टेन्ट डाटा का बैकअप पैन ड्राइव या एक्सटर्नल हार्ड ड्राइव में जरूर रखे। आप dropbox या Google Drive का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

 

इनमें से बहुत सारी बाते है जो आप कभी भी इंटरनेट इस्तेमाल के लिए उपयोग में ले सकते हैं। इन सब बातों का ध्यान रख कर आप अपने कंप्यूटर या मोबाइल के डाटा को सुरक्षित रख सकते है और अनचाहे झमेले से बच सकते है।

 

इस अटैक से बचने का एक मात्र रास्ता है कि इसके बारे में सचेत रहे, उम्मीद है ये जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी तथा कुछ और जानना चाहते हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

Copyright © 2017 – Jagdish Jat

One thought on “WannaCry या ransomware साइबर attack क्या है !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: