MSDE GST Training : GST समझाना हुआ आसान, 100 घंटे का कोर्स जल्द ही लांच

देश में एक जुलाई से लागू हुए गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी) की चुनौतियों से निपटने और व्यापारियों की सहायता के लिये मिनिस्ट्री ऑफ स्किल डेवलेपमेंट एंड एंटरप्रेन्योरशिप (MSDE) 100 घंटे का सर्टिफिकेट कोर्स शुरू करेगी

गुड्स एंड सर्विस टैक्स यानी जीएसटी 1 जुलाई से लागू हो गया है। जीएसटी आने के बाद टैक्स स्लैब और रिटर्न भरने के तरीकों में बदलाव आया है, जो कि अभी कुछ ही कारोबारियों के समझ में आया है। हालांकि सरकार का दावा है कि इसमें कोई परेशानी नहीं होगी। फिर भी कारोबारी बिना किसी एक्सपर्ट के इसे समझने में नाकाफी हैं।
इसी को देखते हुए सरकार जीएसटी एक्सपर्ट्स का वर्कफोर्स बढ़ाने के लिए 100 घंटे का सर्टिफिकेट कोर्स करा रही है, ताकि कारोबारियों को इस समझने में कोई परेशानी न हो। ऐसे में आप इस कोर्स को कर जीएसटी में करियर बनाकर कमाई कर सकते हैं।

15 जुलाई से शुरू होगा कोर्स

मिनिस्ट्री ऑफ स्किल डेवलपमेंट एंड एंटरप्रेन्योरशिप (MSDE) ने GST ट्रेंड प्रोफेनल्स के वर्कफोर्स को तैयार करने के लिए 100 घंटे का सर्टिफिकेट कोर्स शुरू किया है। यह कोर्स 15 जुलाई से शुरू हो रहा है।

तीन शहरों में शुरू होगा कोर्स

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) के तहत यह ट्रेनिंग प्रोग्राम देश के तीन शहरों में 100 केंद्रों पर शुरू हो रहा है। ये शहर हैं- दिल्ली, बेंगलुरू और भोपाल

सीए, ग्रैज्युएट्स कर सकते हैं कोर्स

चार्टर्ड अकाउंटेंट्स, कंपनी सेक्रेटरी, कामर्स में ग्रैज्युएट्स और पोस्ट ग्रैजुएट्स, बैंकिंग, स्टैटिक्स, फाइनेंशियल मार्केट्स और बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन के लोग इस ट्रेनिंग प्रोग्राम में शामिल हो सकते हैं।

इस कोर्स को करने के बाद GST प्रोफेसनल्स की कमी दूर होगी। जीएसटी प्रोफेसनल्स अपने क्लाइंट को GST टैक्स, GST के अंदर रजिस्ट्रेशन और टैक्स लायबिलिटी कैलकुलेशन समझाने में मदद करेंगे।

 

ट्रेनिंग के जरिए रोजगार की उपलब्धता बढ़ाना है लक्ष्य

मिनिस्ट्री ऑफ स्किल डेवलेपमेंट एंड एंटरप्रेन्योरशिप  मंत्रालय का काम रोजगार उत्पन्न करना नहीं है, बल्कि प्रशिक्षण के जरिये लोगों को रोजगार की उपलब्धता बढ़ाना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: