Face ID क्या है ?

जैसे – जैसे विज्ञान तरक्की कर रहा है , वैसे – वैसे कई तरह की अत्याधुनिक तकनीकों का अविष्कार हो रहा है । हर क्षेत्र में विज्ञान और तकनीक का प्रभाव बढ़ता जा रहा है । अगर विश्वास नहीं हो रहा है तो पिछले 1 दशक में हुए सभी परिवर्तनों पर थोड़ा विचार कीजिये । WhatsApp और फेसबुक अभी सही तरीके से शुरू भी नहीं हुए थे तो Paytm और फ्लिपकार्ट जैसे चमत्कार अभी बाजार में होने बाक़ी थे । एप्पल अपना पहला Iphone लांच कर रहा था तो एंड्राइड अभी भी टेस्टिंग फेज से गुजर रहा था ।

अब एक दशक बाद जब नयी टेक्नोलॉजी की बहार आ गयी है तथा इंटरनेट और स्मार्टफोन हमारी ज़िन्दगी का अहम् हिस्सा बन गए है तो अभी – अभी लांच हुए  Apple Iphone X में काम करने वाली नयी टेक्नॉलजी Face ID के बारे में जानते है ।

 

Face ID क्या है ?

ये एक तरह मनुष्य के बारे में सुचना है जिससे वो अपनी ID को प्रमाणित कर सकता है । भारत में हम लोग आधार कार्ड में फिंगर प्रिंट और रेटिना स्कैन का उपयोग कर चुके है जिसमे फिंगर प्रिंट से व्यक्ति अपनी पहचान बता सकता है । आधार कार्ड के उपयोग से वो बैंक में अकाउंट खोल सकता है तो जिओ की सिम भी 15 मिनिट में एक्टिवेट करा सकता है । ठीक फिंगर प्रिंट की तरह ही Face ID भी काम करती है जिसका प्रयोग आप विभिन्न जगहों पर अपनी पहचान साबित करने के लिए कर सकते है ।

Face ID कैसे लेते है ?

इसके लिए HD कैमरों के साथ ही विभिन तरह के सेंसर्स (Sensor’s) से आपके चेहरें की इमेज तैयार करते है जिसको मशीन लर्निंग (Machine Learning)  और AI ( कृत्रिम बुद्धिमता ) की सहायता से सर्वर या फोन के अंदर रक्षित कर लिया जाता है । एक बार आपके चेहरे की इमेज अप्रूव होने के बाद आप अपना घर , फ़ोन अनलॉक करने के लिए या पैसे ट्रांसफर करने के लिए अपने चेहरे का इस्तेमाल कर सकते है ।

यह भी पढ़े : Bitcoin (बिटकॉइन) – संसार की सबसे रहस्यमयी मुद्रा

 

Face ID कितनी सुरक्षित है ?

ये तकनीक अभी भी टेस्टिंग से गुजर रही है लेकिन कुछ कम्पनीज ने इसका प्रयोग मार्किट में शुरू कर दिया है । ये फिंगर प्रिंट से लगभग १००० गुना ज्यादा सुरक्षित एवं सटीक है तथा अपने जुड़वाँ भाई या मास्क से भी इसको हैक नहीं किया जा सकता है क्योंकि मशीन लर्निंग एवं न्यूरल नेटवर्क्स के साथ ही जटिल कंप्यूटर अल्गोरिथ्म्स से यह सुरक्षित की जाती है । इसका सबसे अच्छा उदाहरण एप्पल X है जिसमे बिना किसी सर्वर पर जाने के बजाय एक इलेक्ट्रॉनिक चिप में ही सारी जानकारी एकत्रित की जाती है जिससे हैकिंग का खतरा कई गुना कम हो जाता है ।



 

Face ID का उपयोग कहा किया जा रहा है ?

1. यूजर की प्रमाणिकता साबित करने के लिए जैसे Iphone X में फ़ोन अनलॉक करने के लिए
2. पेमेंट के लिए – फिंगरप्रिंट की जगह अब फेस ID का भी चलन पेमेंट अप्रूवल के लिए बढ़ रहा है ।
3. ऑफिस में बायोमेट्रिक अटेंडेंस के लिए
4. मशीन लर्निंग और AI की टेस्टिंग के लिए

 

One thought on “Face ID क्या है ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: